Add

मेरी रचनाएं...

मेरे राजदार समर्थक मित्र बनने का शुक्रिया

गुरुवार, 22 सितंबर 2011

प्रगति......


प्रगति आतंक की जननी है 
खून तो मानो आतंक है 
पर प्रगति तो धमनी है 
प्रगति ने किया बंदूकों का आविष्कार 
इंसानों ने किया अपनों का ही शिकार 
प्रगति ने ही किया परमाणु अस्त्रों का आविष्कार  
जल गया हिरोशिमा नागासाकी जिसका न कोई आधार 
प्रगति अभी खोज रही थी कैंसर का उपचार 
लो आ गया नया एड्स का भरा पूरा परिवार 
प्रगति ने ही किया है वकील अदालतों का आविष्कार 
बोफोर्स, हवाला चारा करके भी बच गई सरकार 
प्रगति का सबसे बड़ा आविष्कार तो है नोटों की लम्बी तलवार 
जिससे काटो तो ना निकले खून और बचे कातिल हर बार..... 


10 टिप्‍पणियां:

  1. प्रगति को नहीं बल्कि मानव की बढती लालसा को दोष देना होगा...मानव भले बुरे का भेद ही भूलता जा रहा है...

    उत्तर देंहटाएं
  2. आपकी बात काफी हद तक सही ही है ...

    उत्तर देंहटाएं
  3. @अनीता जी आपने सही लेकिन भूलते क्यों जा रहे है प्रगति ने जो आतंकित हथियार पकडाए हैं उन्ही का वार अपनों पर ही तो हम करते
    प्रगति ने ही किया परमाणु अस्त्रों का आविष्कार
    जल गया हिरोशिमा नागासाकी जिसका न कोई आधार
    इस लाइन में कुछ भूल का अहसास तो मुझे नहीं दिखा सो मैंने लिखा है यहाँ तो परीक्षण के लिए गिराया गया ना की भूलवश..
    मैं आपका विरोध नहीं कर रहा आपका कहना भी बहुत हद तक सत्य है
    @ रेखा जी
    आप लोगो का बहुत बहुत धन्यवाद जो आप आकार मुझे ज्ञान की बाते बताते है आशा है हमेशा आवागमन रहेगा

    उत्तर देंहटाएं
  4. मैं अनिताजी की बात से पूरी तरह सहमत हूँ..दोष प्रगति का नही हैं....

    उत्तर देंहटाएं
  5. मैं भी अनिताजी की बात से पूरी तरह सहमत हूँ...प्रयास अच्छा है उसके लिए शुभकामनाएं.....

    उत्तर देंहटाएं
  6. आप सबने अनिता जी को सहमति जाताई उसके लिए बहुत बहुत धन्यवाद हमेशा आप लोगों की प्रेरणा की आवश्यकता रहेगी

    उत्तर देंहटाएं
  7. आपको मेरी तरफ से नवरात्री की ढेरों शुभकामनाएं.. माता सबों को खुश और आबाद रखे..
    जय माता दी..

    उत्तर देंहटाएं
  8. जितना विनाश के ओर तीव्र गति से आदमी बढ़ता है उतना यदि सही दिशा में बढे तो फिर क्या कहना..
    बढ़िया चिंतनशील प्रस्तुति..
    नवरात्री की सपरिवार आपको हार्दिक शुभकामनाएं..

    उत्तर देंहटाएं
  9. प्रगति ने ही किया है वकील अदालतों का आविष्कार
    बोफोर्स, हवाला चारा करके भी बच गई सरकार
    बिंदास अभिव्यक्ति सीधी सपाट सच्ची बात .

    उत्तर देंहटाएं
  10. @वीरू भाई जी
    @कविता रावत जी
    @अनिल अवतार जी
    @महेशवरी जी
    @रश्मि किरण जी
    @रेखा जी
    @अनिता जी

    बहुत बहुत धन्यवाद आप सब के आगमन एवं स्नेह का
    आप सब एवं आने वाले आगंतुकों को नवरात्रि और दशहरा की हार्दिक शुभकामनाएं

    उत्तर देंहटाएं